spritual mantra

श्री मारूतिनन्दन के इस मंत्र स्त्रोत से आपको शीध्र शत्रुओं पर विजय मिलेगी, निडर हो जायेगें।

ऊँ नमो वायुपुत्राय भीमरूपाय धीमते। नमस्ते रामदूताय कामरूपाय श्रीमते।। 1।। मोहशोकविनाशाय सीताशोकविनाशिने। भग्नाशोकवनायस्तु दग्धलंकाय वाग्मिने।। 2।। ऊँ भयंकर रूपधारी बुद्धिमान् वायुपुत्र हनुमान को नमस्कार है। जो स्वेच्छानुसार रूप धारण करने…